वेटलॉस के लिए बेस्ट हैं ये 5 आसान से योगासन

वेटलॉस के लिए बेस्ट हैं ये 5 आसान से योगासन

जब सारे जतन करने के बाद भी वजन न घटे तो ऐसे में योग कारगर साबित होता है। इसे आप अपने लाइफस्टाइल में शामिल करके फिट रह सकते हैं और मनचाही फिगर पा सकते हैं। योग सिर्फ वजन ही नहीं घटाता, बल्कि व्‍यक्ति का आत्‍मविश्‍वास भी बढ़ाता है। योग की सबसे खास बात तो यह है कि इससे आपके शरीर पर किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है और यह आपके शरीर पर जमे एक्सट्रा फैट को बर्न करने में मदद करता है। यहां हम आपको बता रहे हैं ऐसे ही कुछ आसान से योगासन जो वेटलॉस के लिए बेस्ट माने जाते हैं -


सूर्य नमस्कार


surya namskar


अगर आप रोजाना सूर्य नमस्कार करते हैं तो फिट रहने के साथ ही कई बीमारियों से भी दूर रहते हैं। अगर आप मोटापे से परेशान हैं तो रोजाना कम से कम 10 बार सूर्य नमस्कार करने से आप अपना वजन घटा सकते हैं। इसके एक नहीं अनगिनत फायदे हैं। रोजाना सूर्य नमस्कार करने से मन की एकाग्रता बढ़ती है, साथ ही शरीर में लचीलापन भी आता है, त्वचा में निखार आता है, हड्डियां मजबूत बनती हैं, पाचन शक्ति बढ़ती है और दिमाग तनाव से कोसों दूर रहता है। इसके लिए आपको बस तस्वीर में दिखाए गए ये आसान से 12 स्टेप फॉलो करने हैं।


वक्रासन


vakrasna


वक्रासन करने से शरीर की चर्बी कुछी दिनों में पिघलने लगती है। साथ ही ये आपके शरीर को लचीला बनाता है और जांघों में मजबूती आती है। ध्यान रहे कि जब आप वक्रासन कर रहे हों तो उस समय हाथ और पैरों में तालमेल होना जरूरी है।


नौकासन


naukasna


अगर आप नियम से नौकासन का प्रैक्टिस करते हैं तो यकीन मानिए आपका पेट कभी भी नहीं निकलेगा। और अगर पेट की चर्बी कम करना चाहती हैं तो ये आसन बेस्ट है। ये मोटापे को कंट्रोल करता है और पेट के साथ-साथ पूरे शरीर में भी वसा जमा नहीं होने देता है। इसके अलावा ये किडनी के लिए भी बहुत फायदेमंद है। इसका रोजाना अभ्यास करने से पेट से जुड़ी सभी समस्याएं भी दूर हो जाती हैं।


सेतुबंधासन


setubandhna


अगर आपको कमर से जुड़ी कोई परेशानी है तो सेतुबंध आसन एकदम बेस्ट ऑप्शन है। साथ ही पेट की एक्सट्रा चर्बी को चुटकियों में दूर करता है ये आसन। इससे आपकी रीड की हड्डी मज़बूत और सीधी होती है। नियमित रूप से यह आसन करने से थाइरॉयड ग्लैंड की भी अच्छी तरह से मसाज होती है और थायरोक्सिन हॉर्मोन बनता है जो थाइरॉयड को रोकने में मदद करता है।


पवनमुक्तासन


pawanmukta


इस आसन को करने से पेट सुडौल होता है, रीढ़ मजबूत होती है। पवनमुक्‍तासन एक ऐसा योगासन है जो पाचन क्रिया को दुरुस्त कर पेट की बीमारियों को दूर करता है। मेटाबॉलिज्‍म को तेज करके यह शरीर की अतिरिक्‍त चर्बी को भी कम करता है। साथ ही यह गैस बनने की समस्‍या से भी निजात दिलाता है।


इन्हें भी पढ़ें -