सुरक्षित ड्राइविंग को बढ़ावा देने के लिए द टर्टल राइड आयोजित |POPxo Hindi | POPxo
Home
‘‘सुरक्षित ड्राइविंग’’ को बढ़ावा देने के लिए एक अनूठी पहल- द टर्टल राइड

‘‘सुरक्षित ड्राइविंग’’ को बढ़ावा देने के लिए एक अनूठी पहल- द टर्टल राइड

दिल्ली यातायात पुलिस और अग्रणी सुपरबाईक कम्युनिटी आरपीएम इण्डिया (रोरिंग पावर मशीन्स) ने बार टाॅक एण्ड डर्ट स्ट्रीट के सहयोग से ‘‘सुरक्षित ड्राइविंग’’ को बढ़ावा देने के लिए द टर्टल राइड का आयोजन किया, जिसमें 50 से ज़्यादा सुपरबाइकर्स ने हिस्सा लिया। यह राइड गुरुगांव के एम्बिएन्स टोल प्लाज़ा से शुरू होकर दिल्ली के रज़ौरी गार्डन पर समाप्त हुई जहां दिल्ली यातायात पुलिस के विशेष आयुक्त दीपेन्द्र पाठक ने कार्यक्रम में शामिल होकर ट्रैफिक से संबंधित इस नेक अभियान में हिस्सा लेने के लिए राइडरों का उत्साहवर्धन किया।


Turtle Ride Logo


इस मौके पर दिल्ली यातायात पुलिस के विशेष आयुक्त दीपेन्द्र पाठक ने कहा, ‘‘सड़क सुरक्षा हमेशा से हमारी पहली प्राथमिकता रही है। हमें खुशी है कि हम लोगों को ड्राइविंग के दौरान गति सीमा एवं सुरक्षा के महत्व के बारे में जागरुक बनाने के लिए आरपीएम इण्डिया को सहयोग दे रहे हैं। उन्होंने कहा ‘‘यह अनूठा अभियान द टर्टल राइड निश्चित रूप से समाज के नागरिकों को संवेदनशील बनाएगा तथा यातायात नियमों का ज़िम्मेदारी से पालन करने के लिए प्रेरित करेगा।’’


RPM and Delhi Traffic Police Event 3


आरपीएम इण्डिया के कोर राइडर नवज्योत सिंह ने कहा, ‘‘वाहन चलाते समय सामान्य से अधिक गति 66 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं और 61 फीसदी मौतों का कारण है। साथ ही दिल्ली उन शहरों की सूची में शुमार है जहां सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों की संख्या सबसे अधिक है। दिल्ली में साल 2016 में यह आंकड़ा 1591 दर्ज किया गया। सुपरबाइकों को उनकी पावर और स्पीड के लिए जाना जाता है, तो अगर इतनी पावरफुल सुपरबाईक धीमी गति से चल सकती हैं तो आम बाइकें क्यों नहीं। हम दिल्ली यातायात पुलिस के प्रति आभारी हैं जिन्होंने इस पहल को अपना सहयोग एवं समर्थन प्रदान किया है।’


सुपरबाइकों के समूह आरपीएम इण्डिया को नेककार्यों के लिए आवाज़ उठाने के लिए जाना जाता है। और आरपीएम का यह प्रयास और भी अधिक खास हो जाता है, जब यह आम जनता को किसी विषय पर जागरुक बनाने के लिए हो।


आरपीएम इण्डिया


आरपीएम इण्डिया एक अग्रणी सुपरबाईक कम्युनिटी है। यह एकमात्र बाइकर कम्युनिटी है जो अटारी-वाघा सीमा पर बीएसएफ- सीमा सुरक्षा बलों को ‘सलामी’ देती है। आरपीएम इण्डिया की स्थापना बाइक प्रेमियों के एक समूह द्वारा ज़िम्मेदाराना राइडिंग को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से की गई। आरपीएम 3 आर- रेस्पेक्ट, रेस्पॉन्सिबिलिटी और राइड (सम्मान, ज़िम्मेदारी और सवारी) की फिलॉसफी पर आधारित है।


द टर्टल राइड


सामान्य से अधिक गति 66 फीसदी सड़क दुर्घटनाओं और 61 फीसदी मौतों का कारण है। साथ ही दिल्ली उन शहरों की सूची में शुमार है जहां सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों की संख्या सबसे अधिक है। दिल्ली में साल 2016 में यह आंकड़ा 1591 दर्ज किया गया। इसीलिए आरपीएम इण्डिया और दिल्ली यातायात पुलिस ने लोगों को गति सीमा के साथ वाहन चलाने के लिए जागरुक बनाने हेतू इस अभियान द टर्टल राइड की शुरूआत की है ताकि आम जनता को ओवर स्पीड एवं रैश राइडिंग (तेज़ गति से वाहन चलाने) के नुकसान के बारे में जागरुक कर इस पर अंकुश लगाया जा सके।


आरपीएम इण्डिया की सुपरबाइकें निर्धारित गति सीमा के अंदर राइड कर आम लोगों को संदेश देंगी कि अगर इतनी पावरफुल सुपरबाइकें धीमी गति से चल सकती हैं तो आम बाइकें क्यों नहीं।


इसे भी देखें- 

Subscribe to POPxoTV
प्रकाशित - जनवरी 22, 2018
Like button
1 लाइक
Save Button सेव करें
Share Button
92 शेयर्स
और भी पढ़ें
Trending Products

आपकी फीड