इन 20 फ्रेंडशिप गोल्स से बनाएं अपनी दोस्ती को खास | POPxo Hindi | POPxo
Home
इन 20 फ्रेंडशिप गोल्स से बनाएं अपनी दोस्ती को खास

इन 20 फ्रेंडशिप गोल्स से बनाएं अपनी दोस्ती को खास

आम दोस्तों को थैंक्स कहना या उनके बारे में बातें करना कोई बड़ी बात नहीं है पर जब बात बेस्ट फ्रेंड की हो तो सब कुछ बहुत खास होना चाहिए। ये बेस्ट फ्रेंड आपके क्लासमेट, बचपन के दोस्त, रूममेट, कज़िन या कोई भी हो सकते हैं। अकसर दूसरों को टाइम देते-देते हम अपनी ज़िंदगी में इनकी अहमियत को कम कर बैठते हैं। जानें, कुछ ऐसे तरीके, जिन्हें अपनाकर आप अपने बेस्ट फ्रेंड को बिना कुछ बोले भी अपनी ज़िंदगी में आने के लिए थैंक्स कह सकते हैं।


दिखाएं बेस्टी वाला प्यार


आप अपने बॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड के कितने भी क्लोज़ हों पर बेस्टी वाला प्यार अलग ही होता है। ज़िंदगी के हर मोड़ पर हर किसी को इसकी ज़रूरत पड़ती है। भले ही कुछ एहसास सिर्फ समझे जाने के लिए होते हैं पर फिर भी उन्हें एक्सप्रेस करने में कोई बुराई नहीं है। कभी-कभी यूं ही अपने बेस्ट फ्रेंड को अचानक से आई लव यू बोलने से आपका रिश्ता अधिक मज़बूत होगा।


bestie love


मनाएं कुछ खास दिन


माना कि दोस्ती में फॉर्मैलिटी या किसी दिखावे की कोई ज़रूरत नहीं होती है मगर फ्रेंडशिप डे मनाने में कोई हर्ज़ नहीं है। आप चाहें तो उस खास दिन को भी अपना फ्रेंडशिप डे बना सकते हैं, जिस दिन आप दोनों पहली बार मिले थे। जी हां, ऐसे खास दिन सिर्फ गर्लफ्रेंड या बॉयफ्रेंड के साथ ही नहीं, बल्कि बेस्ट फ्रेंड के साथ भी हंसी-खुशी से मनाए जा सकते हैं।


celebrate days


थोड़ा खुलना ज़रूरी है


कुछ लोग बहुत संकोची होते हैं, इतने ज़्यादा कि वे अपने बेस्ट फ्रेंड से भी कुछ कहने, पूछने या मांगने में हिचकिचाते हैं। यहां हम यह नहीं कह रहे हैं कि आप उससे कभी भी कुछ भी मांग बैठें मगर बहुत ज़रूरत पड़ने पर किसी और से कुछ कहने-सुनने के बजाय अपने बेस्ट फ्रेंड पर भरोसा करना सीखें। झिझक खत्म होने से रिश्ता अधिक मज़बूत होता है।


सजें एक-दूजे के लिए


पार्टी या किसी खास ओकेज़न के लिए तो हर कोई तैयार होता है। कभी यूं ही, एक-दूसरे के लिए तैयार होकर देखें। बिना किसी की परवाह किए सिर्फ वह काम करें, जो आप दोनों को खुशी और सुकून देता हो। इसके लिए आप कोई थीम भी बना सकते हैं, मसलन फेवरिट कार्टून कैरेक्टर की तरह तैयार हो जाएं। ड्रेसेज़ से लेकर एक्सेसरीज़ तक में बदलाव कर आप दोनों का मूड भी कुछ चेंज हो जाएगा।


dress up


एक-दूसरे का दें साथ


कई बार ज़िंदगी में कुछ ऐसे पल आते हैं कि आपको बस किसी अपने के साथ की ज़रूरत महसूस होती है। ऐसी स्थिति में अपने बेस्ट फ्रेंड के पास जाएं और जब कभी वह भी ऐसी स्थिति से गुज़र रहा हो तो दोस्ती का रिश्ता ज़रूर निभाएं। हर परिस्थिति में एक-दूसरे का साथ देना आपका प्राइमरी गोल होना चाहिए। ऐसा न हो कि आपका दोस्त किसी मुश्किल दौर से गुज़र रहा हो और आपको उसकी भनक ही न लगे।


help each other


जानें एक-दूसरे के दोस्तों को


बेस्ट फ्रेंड को परिवार का हिस्सा बनते देर नहीं लगती है। ऐसे में एक-दूसरे से कुछ भी छिपाने से बचना चाहिए। एक-दूसरे के अलावा भी आपके कई दोस्त होंगे, स्कूल-कॉलेज, ऑफिस या मोहल्ले के दोस्त… आप जब भी अपने दोस्तों के साथ हैंगआउट करने जाएं तो अपने बेस्ट फ्रेंड से भी ज़रूर पूछ लें। हालांकि, कुछ चीज़ों में इस बात का भी ख्याल रखें कि आपका दोस्त भी आपके लिए इतने एफर्ट्स करता हो।


introduce to friend circle


हाथ थामना भी है ज़रूरी


कभी-कभी सामने वाला किसी ऐसे दौर से गुज़र रहा होता है, जब वह कुछ भी सुनना नहीं चाहता है। अगर कभी आपको लगे कि आपका बेस्ट फ्रेंड भी कुछ सुनने-समझने के मूड में नहीं है तो बस उसका हाथ थाम लें। इससे उसको भरोसा मिलेगा कि आप उसके साथ हैं। ये फैसले बिना सेल्फिश हुए लिए जाते हैं, उस समय यह बिल्कुल न सोचें कि जब आप परेशान थे तो वह आपके साथ नहीं था।


hold hands


बचाएं एक-दूजे को


अगर आप एक-दूसरे को चिढ़ाएं या परेशान करें तो कोई बात नहीं है पर ध्यान रखें कि कोई दूसरा ऐसा न कर पाए। हमेशा एक-दूसरे की ढाल बनने की कोशिश करें। कभी ज़रूरत पड़ जाने पर एक-दूसरे को बचाएं तो ज़रूर पर इस बात का भी ध्यान रखें कि आपका दोस्त गलतियों की आदत न डाल ले।


बातचीत का बनाएं दौर


अगर आप रूममेट हैं तो ज़ाहिर है कि दोनों की रोज़ ही मुलाकात होती होगी। अगर नहीं भी हैं तो भी हो सकता है कि किसी बहाने आप रोज़ मिल लेते हों। हर रोज़ की मुलाकात के बावज़ूद दिन में एक बार एक-दूसरे को कॉल ज़रूर करें। कुछ नहीं तो सुबह-शाम एक-दूसरे का हालचाल लेने की ही आदत डाल लें। एक-दूसरे के प्रति केयरिंग होना अच्छा माना जाता है।


keep calling


तुझे हंसना ही होगा…


अगर आप दोनों एक-दूसरे के लिए बहुत खास हैं तो यकीनन एक-दूसरे को किसी भी बात पर रोता हुआ नहीं देख सकते होंगे। कभी फैमिली की टेंशन तो कभी ऑफिस की, कभी रिलेशनशिप से जुड़ा कोई मसला तो कभी कुछ और… इमोशनल लोगों की आंखों में आंसू आ जाना कोई बड़ी बात नहीं होती है। अगर आपका बेस्ट फ्रेंड भी इतना इमोशनल है तो आप बहुत लकी हैं और इसलिए, जब वह रो रहा हो तो उसे छोड़ कर जाने के बजाय हंसाने की कोशिश करें।


make her laugh


सेट करें मैरिज गोल


अगर आप ट्वेंटीज़ के दौर में हैं तो घर में आपकी शादी की बातें होने लगी होंगी। ऐसे में बेस्ट फ्रेंड का परेशान होना तो स्वाभाविक है। इस टेंशन को कम करने के लिए बेहतर होगा कि एक-दूसरे से एक पक्का वादा कर लिया जाए। वादा यह करें कि शादी के बाद भी आप दोनों की दोस्ती में कोई फर्क नहीं पड़ेगा, बल्कि दोनों के बीच जो थोड़ी दूरी आएगी, उससे आपका प्यार और गहराएगा।


marriage goal


थोड़ी तारीफ भी करें


रिश्ते में कोई फॉर्मैलिटी न होने का यह मतलब नहीं है कि कभी एक-दूसरे की तारीफ ही न की जाए। रिश्ते को प्रगाढ़ बनाने के लिए कभी एक-दूसरे के सामने तो कभी दूसरों के सामने एक-दूसरे की तारीफ ज़रूर करें। अगर बोल कर तारीफ करने में झिझक रहे हों तो पेपर पर लिख कर भी कह सकते हैं।


praise each other


बनें सीक्रेट डायरी


अगर आपका बेस्ट फ्रेंड अपने दिल की हर बात आपसे शेयर करता है तो उन बातों को खुद तक ही सीमित रखने की आदत डालें। उन बातों का ढिंढोरा पीटने से आपके रिश्ते में दरार आ सकती है। किसी भी रिश्ते में विश्वास होना बहुत ज़रूरी होता है और उसको बनाए रखने की पहल दोनों को ही करनी चाहिए।


secret diary


करें बिज़नेस की शुरुआत


अगर आप दोनों एक-दूसरे पर आंख मूंद कर भरोसा करते हैं तो पार्टनरशिप में किसी बिज़नेस की भी शुरुआत कर सकते हैं। दोनों का ही कोई कॉमन इंटरेस्ट ज़रूर होगा, अपनी उन्हीं रुचियों को थोड़ा एक्सप्लोर करें। अच्छे से प्लैनिंग कर अगर किसी चीज़ की शुरुआत करेंगे तो आपकी खास दोस्ती सफल पार्टनरशिप में भी आसानी से बदली जा सकेगी।


start business


रिश्ता कुछ खट्टा, कुछ मीठा सा


कभी एक-दूसरे को परेशान करें तो कभी साथ मिलकर दूसरों को… वाकई में इस खेल के भी अपने अलग ही मज़े हैं। इसके साथ ही थोड़ी गॉसिपिंग भी बहुत ज़रूरी मानी जाती है।


tease


साथ घूमें-फिरें


परिवार के साथ उतना एक्सप्लोर करना आसान नहीं होता है, जितना आप अपने दोस्त के साथ घूम कर कर सकते हैं। कहीं दूर नहीं तो आसपास की लो बजट की जगहों की लिस्ट ही बना लें। अगर पहली बार अकेले घूमने जाना हो तो शुरुआत वीकेंड डेस्टिनेशन से करें।


travel together


नई चीज़ें और नए शौक


अगर आप एक ही आयु वर्ग के हैं तो ऐसी बहुत सी चीज़ें होंगी, जो आपने कभी ट्राई नहीं की होंगी। तो क्यों न ऐसी चीज़ों या शौकों की एक लिस्ट बना ली जाए? इन चीज़ों को साथ में ट्राई करने से आपका कॉन्फिडेंस तो बूस्ट होगा ही, रिश्ते पर भी इसका पॉज़िटिव असर साफ नज़र आएगा।


try things together


एक सा दिखना ज़रूरी


आजकल ट्विनिंग का ग़ज़ब फैशन है। इसलिए बिना देर किए आप दोनों भी अपने लिए सेम ड्रेसेज़ ले आइए। कभी- कभी दोस्त के साथ आउटिंग्स में ड्रेस के कलर या पैटर्न का कोऑर्डिनेशन भी किया जा सकता है।


twinning


लड़ाई का करें द एंड


अगर किसी बात पर आपस में लड़ाई हो गई हो तो सामने वाले की पहल का ही इंतज़ार न करते रह जाएं। अगर दोस्त के बजाय आप ही पहले सॉरी बोल देंगे तो कुछ बिगड़ नहीं जाएगा।


end fight


ताउम्र का यह वादा


दोस्ती करना बहुत आसान होता है मगर उसे निभाना उतना ही कठिन। अगर आप किसी को अपना दोस्त मानते हैं तो यह दोस्ती ताउम्र निभाएं। किसी तीसरे व्यक्ति या बेकार की गलतफहमी की वजह से अपने इस खास रिश्ते पर कोई आंच न आने दें।


till death do us apart


ये भी पढ़ें :


कहीं बेस्ट फ्रेंड ही तो नहीं बन रहा है आपका बॉयफ्रेंड?


#मेरा पहला प्यार - शादी के बाद हुई उनसे मुलाकात


#मेरा पहला प्यार : बहन की शादी में हुआ मेरा गठबंधन

प्रकाशित - नवम्बर 28, 2017
Like button
4 लाइक्स
Save Button सेव करें
Share Button
शेयर
और भी पढ़ें
Trending Products

आपकी फीड