सनस्क्रीन लोशन का उपयोग करते समय ध्यान रखें ये ज़रूरी बातें - How To Use Sunscreen in Hindi

Sunscreen Meaning in Hindi

सूरज की अल्ट्रा वायलेट रेज़ हमें कितना नुकसान पहुंचाती हैं ये हम सब जानते हैं। तभी तो घर से निकलने से पहले सनस्क्रीन  का कवच लगाना नहीं भूलते। पर ऐसा बहुत कुछ है जो हम इस सनस्क्रीन लोशन  के बारे में या तो नहीं जानते या फिर गलत जानते हैं, पढें क्या हैं वो बातें।

Table of Contents

    सनस्क्रीन का उपयोग करे और अपनी स्किन को बने निखरी ग्लोइंग - How To Use Sunscreen In Hindi

    सनस्क्रीन लगाएं, पर कम से कम 20 मिनट पहले

    आप घर से निकल रही हैं और इन UV rays से बचना चाहती हैं तो झट से सनस्क्रीन  लगा लिया, ये गलत है। घर से निकलने से कम से कम 20 मिनट पहले सनस्क्रीन लोशन लगाएं। ध्यान रखें कि दिन में एक बार सनस्क्रीन  लगाकर भी दिनभर की छुट्टी नहीं हो सकती। सनस्क्रीन क्रीम  हर दो घंटे बाद फिर से लगाएं।

    सनस्क्रीन लगाने में कंजूसी न करें

    हल्का-सा सनस्क्रीन लोशन  हाथ में लिया और दोनों बाहों में मल लिया, ऐसे नहीं चलेगा। अगर आप सच में चाहती हैं कि इसका असर हो तो सनस्क्रीन सही मात्रा में लगाएं।

    कोई भी सनस्क्रीन सुरक्षा की 100% गारंटी नहीं देता है

    सनस्क्रीन लोशन एक केमिकल बेस ही है, कोई दिव्य कवच नहीं। तो विज्ञापनों के चक्कर में पड़े बिना सनस्क्रीन  इस्तेमाल करें। सनस्क्रीन क्रीम से आपको 50% से लेकर 97% तक की सुरक्षा मिल सकती है।

    सनस्क्रीन में वाटरप्रूफ जैसा कुछ भी नहीं है

    इसलिए अगर आप स्विमिंग करके निकलती हैं या ऐसे ही चेहरे पर पानी डालती हैं तो उसके बाद सनस्क्रीन  न भूलें।

    अगर आपके मेकअप में भी सनस्क्रीन हो तो - Makeup With Sunscreen

    उसके भरोसे ही न रहें, उसके अलावा भी खुद को प्रोटेक्शन देने के लिए सनस्क्रीन लोशन  ज़रूर लगाएं। 

    सनस्क्रीन में जितना ज्यादा SPF उतना ही अच्छा का कॉन्सेप्ट गलत है

    कई लोग ये समझते हैं कि सनस्क्रीन लोशन में  SPF जितना ज्यादा होगा, वो उतने ही सुरक्षित हैं.. जबकि ऐसा नहीं है। अगर आपका SPF 30 है तो इसका मतलब ये है कि आप धूप में सामान्य तौर पर जितनी देर रहती हैं उससे 30 गुना ज्यादा समय तक रह पाएंगी। जबकि SPF 50 हो तो 50 गुना ज्यादा सुरक्षा नहीं मिलती क्योंकि 2 घंटे के बाद वैसे भी क्रीम या तो साफ हो जाती है या फिर स्किन में एब्सोर्ब  हो जाती है। साथ ही SPF30 97% UV रेज़ ब्लॉक करता है जबकि SPF50 98%.. ये अंतर बहुत ही कम है इसलिए डॉक्टर SPF30 की सलाह देते हैं। 

    सनस्क्रीन को भी सुरक्षित रखें

    जैसे आप अपनी दवाइयों को रखती हैं, क्योंकि धूप के संपर्क में आकर सनस्क्रीन लोशन भी खराब हो सकते हैं।

    अगर आप ऊंचाई पर जा रही हों तो

    सनस्क्रीन क्रीम की  मात्रा और बढ़ा दें, क्योंकि वहां से सूरज की किरणें आपके और भी करीब होंगी। शरीर के उन हिस्सों पर भी सनस्क्रीन लगाएं जिन्हें आप अमूमन इग्नोर करती हैं, जैसे - पैरों की उंगलियां। 

    ये भी पढ़ें -
    बॉडी लोशन इस्तेमाल करने के तरीके