How To Use Contraceptive Pills In Hindi - कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स, Contraceptive Pills In Hindi, Birth Control Pills In Hindi, कॉन्ट्रासेप्टिव पिल्स यूज़ करने का तरीका | POPxo
Home  >  Hindi
कॉन्ट्रासेप्टिव पिल के बारे में वो सब कुछ जो आपको पता होना चाहिए - How To Use Contraceptive Pills In Hindi

कॉन्ट्रासेप्टिव पिल के बारे में वो सब कुछ जो आपको पता होना चाहिए - How To Use Contraceptive Pills In Hindi

Contraceptive Pills प्रेग्नेंट न होने का सबसे आसान और पुराना तरीका है। लाखों लेडीज़ गर्भनिरोधक गोलियों का इस्तेमाल करती हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि इन pills को लेने से पहले भी डॉक्टर की सलाह लेनी जरूरी होती है! बिना सोचे-समझे इन pills को use करना सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। इन contraceptive pills के बारे में कुछ बातें हैं जो आपको पता होनी चाहिए-

जानिए कॉन्ट्रसेप्टिव पिल से जुड़ी सभी जानकारियां - How To Use Contraceptive Pills In Hindi

पिल्स काम कैसे करती है?

1 contra ज्यादातर इमरजेंसी और कंट्रासेप्टिव पिल्स Progesterone और Estrogen या सिर्फ progesterone का combination होती हैं। ये फीमेल बॉडी में बनने वाले Hormones हैं। ये हार्मोन ovary से निकलने वाले egg को रोकते हैं। जब ओवरी से कोई एग बाहर ही नहीं आएगा तो प्रेग्नेंसी का रिस्क अपने आप खत्म हो जाता है। इन पिल्स को आप अपने पीरियड्स के 5th day से ले सकती हैं। पीरियड सर्किल 21 दिन का माना जाता है। आपको हर रोज सेम टाइम पर पिल लेनी होगी। तभी ये Effective होती है। महीने में कोई एक डोज़ आप गलती से भूल जाएं तो कोई दिक्कत नहीं, लेकिन एक से ज्यादा डोज़ मिस कर देना दिक्कत दे सकता है। इन पिल्स का यूज़ आपकी मेडिकल हिस्ट्री पर डिपेंड करता है।

यह Safe सेक्स का Option नहीं

आप इमर्जेंसी पिल को सेफ सेक्स के option के तौर पर न लें। अगर कभी अनसेफ सेक्स हो गया है, तो इसे लेना समझदारी है, लेकिन इसे रुटीन का हिस्सा नहीं बनाना चाहिए। Sexologists कहते हैं कि पिल्स प्रेग्नेंसी से बचने का एक कॉम्प्लिमेंट्री तरीका है न कि सप्लिमेंट्री।

इमरजेंसी और कॉन्ट्रासेप्टिव पिल में अंतर

3 (1) जिसे आप अपने मंथली साइकिल के अनुसार लेती हैं वो कॉन्ट्रसेप्टिव पिल होती है। जब कभी बिना किसी सेफ्टी के आप सेक्स कर लेती हैं तो उस इमरजेंसी में प्रेग्नेंसी से बचने के लिए इमरजेंसी पिल यूज़ की जाती है। टीवी या दूसरे मीडियम पर दिखाए जाने वाले कुछ इमरजेंसी पिल्स के advertisements में बताया जाता है कि आप इन्हें अनसेफ सेक्स के 72 घंटे के अंदर ले सकती हैं। जबकि डॉक्टर्स की मानें तो आप इन पिल्स को अनसेफ सेक्स के जितनी देर बाद लेंगी, इनका असर उतना ही कम होगा। इसलिए जितना जल्दी हो सके इसे ले लें।

कितनी सेफ है इमरजेंसी पिल?

यह सच है कि इमरजेंसी पिल अनचाही pregnancy के रिस्क को दूर कर देती है। लेकिन इसका दूसरा पहलू यह भी है कि इसके लगातार और बिना Doctor की गाइडेंस के लेने से कैजुअल सेक्स की प्रवृत्ति के साथ ही कई तरह की बीमारियां भी बढ़ रही है। आपके लिए यह बात जानना ज़रूरी है कि लंबे समय तक इसका इस्तेमाल आपको In Future प्रेग्नेंसी में दिक्कत दे सकता है। इसलिए इसे यूज़ करते समय डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें।

क्या होते हैं साइड इफेक्ट्स - Side Effects Of Contraceptive Pills

5 (1) पिल लेने से पहले इससे होने वालें side-effects के बारे में अच्छी तरह जान लेना चाहिए ताकि आप कई तरह की mental problems से दूर रह सकें। कुछ लेडीज़ को vomiting की दिक्कत होती है। डॉक्टर्स के अनुसार यह सबसे common साइड-इफेक्ट है। अगर पिल लेने के दो घंटे के अंदर आपको उल्टी हो जाती है तो पिल दोबारा लेनी चाहिए। नहीं तो pregnancy का संभावना रहती है। Pill लेने पर पेट दर्द या सिरदर्द की शिकायत भी हो सकती है। ज्यादातर मामलों में ये शिकायतें पिल के लगातार यूज के कारण होती हैं। कुछ ladies में यह भी होता है कि उनके ब्रेस्ट हेवी या फिर बहुत ज्यादा सॉफ्ट होने लगते हैं। साथ ही pills का ज्यादा यूज़ अक्सर महिलाओं का monthly period cycle गड़बड़ा जाता है। इमरजेंसी पिल यूज करने पर पीरियड duration बढ़ सकता है। इससे परेशान न हों और अपनी डॉक्टर से कंसल्ट करें।

कुछ अच्छे इफेक्ट्स

पिल्स केवल आपको प्रेग्नेंसी से ही सुरक्षा देती है, साथ ही आपके हार्मोनल बैलेंस को भी बनाए रखने में helpful होती है। खासकर PCOS PCOD (Polycystic Ovary Syndrome/ Disease)में। ये एक्ने रोकने में भी मददगार होती है। ये आपके मंथली साइकिल को भी मेंटेन कर सकती है। साथ ही पीरियड्स के दौरान होने वाले दर्द से भी काफी हद तक निज़ात दिलाती है। ध्यान रखें हर किसी की body पर इनका असर अलग होता है। अक्सर ऐसा पिल्स के कंपोजिशन के कारण होता है। जिस पिल को आप अभी ले रही हैं, अगर उससे दिक्क्त हो तो तुरंत अपनी डॉक्टर से बात करें।

केवल Pregnency रोकने के लिए

7 (1) कॉन्ट्रसेप्टिव पिल आपको केवल अनचाही प्रेग्नेंसी से दूर रखती हैं। ये आपको STD(Sexually Transferable Disease) से कोई प्रोटेक्शन नहीं देतीं। जो लोग एक ही पार्टनर के साथ सेक्स करते हैं, उन्हें तो कम रिस्क है, मगर एक से ज्यादा पार्टनर होने पर एसटीडी का खतरा ज्यादा रहता है। इमरजेंसी पिल के ज्यादा यूज की वजह से यौन रोगों खासकर एचपीवी ह्यूमन पैसिलोमा वायरस का खतरा होता है, क्योंकि ये आगे जाकर कैंसर का कारण बन सकता है। हालांकि ऐसा होने की संभावना तब अधिक होती है, जब इसे 3 साल तक लगातार लिया जाए।

प्रेग्नेंट होने के लिए कितने दिन पहले लेना बंद करें

अक्सर सुनने को मिल जाता है कि जब आप प्रेग्नेंट होना चाहें उसके 3 से 4 महीने पहले पिल लेना बंद करना होता है। जबकि reality इससे एकदम अलग है। क्योंकि इसका असर आपकी बॉडी से जल्द खत्म हो जाता है और hormones अपने नेचुरल तरीके से रिलीज होने लगते हैं और एग बनने की process शुरू हो जाती है। लेकिन डॉक्टर्स कहते हैं कि ये पिल लेना बंद करने के बाद कुछ प्रेग्नेंसी के लिए कुछ वक्त लेना चाहिए। ताकि आपकी बॉडी में vitamins और minerals का लेवल सही हो। तो इस duration में अपनी Dite पर ध्यान ज़रूर दें। मल्टीविटामिन टैबलेट के साथ Healthy diet लें। images: shuttersock यह भी पढ़ें : Sex के बारे में गलत हैं ये 10 बातें!! यह भी पढ़ें : आपकी ज़िंदगी में Sex लाता है ये 10 बदलाव!
प्रकाशित - मार्च 9, 2016
लाइक
सेव करें
शेयर
और भी पढ़ें
Trending Products

आपकी फीड