पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे और मुहासे की दवा आयुर्वेदिक - Pimple Hatane ka Tarika

पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे और मुहासे की दवा आयुर्वेदिक - Pimple Hatane ka Tarika

आजकल के समय में पिंपल एक आम समस्या बन चुकी है। चेहरे पर होने वाले पिंपल खूबसूरती पर दाग की तरह लगते हैं। हम अक्सर आइने के सामने खड़े होकर खुद से सवाल करते हैं कि ये पिंपल क्यों होते हैं? खासतौर पर युवावस्था में इनका सामना कुछ ज्यादा ही करना पड़ता है। ऐसे में परेशान होकर इनका इलाज ढूंढना लाज़मी हैं। पार्लर के चक्कर काटने से लेकर डॉक्टर के पास पहुंचने तक, क्या कुछ करते मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए। इसके बावजूद पिम्पल्स के दाग पीछा छोड़ते ही नहीं। ...और जब इतना कुछ करने के बाद भी मुंहासे पूरी तरह से हमारा पीछा नहीं छोड़ते तो निराश होने के बजाए कोई रास्ता नहीं बचता। इस आर्टिकल में जानिए पिंपल हटाने के घरेलू नुस्खे के बारे में।

Table of Contents

    मुँहासे क्यों होते है?

    मुंहासों की समस्या अधिकतर उन लोगों को होती है जिनकी स्किन सामान्य से ज्यादा ऑयली होती है। दरअसल, त्वचा पर मौजूद तेल ग्रंथियां जब बैक्टीरिया से संक्रमित हो जाती हैं, तो मुंहासों का जन्म होता है। 

    मुँहासे क्यों होते है? ये सवाल हर किसी के मन में उठना लाज़मी है। दरअसल, ऑयली स्किन पर धूल- मिट्टी, पॉल्यूशन की मार पड़ते ही पिंपल यानि मुंहासे हो जाते हैं। इसके अलावा शरीर में हार्मोनल बदलाव के चलते भी त्वचा की तेल ग्रंथियों में संतुलन बिगड़ जाता है और त्वचा पर मुंहासे नज़र आने लगते हैं। 

    पिंपल्स के प्रकार - Types of Pimples

    पिंपल दिखने में भले ही एक जैसे लगें लेकिन वास्तव में ये कई प्रकार के होते हैं। चेहरे पर दाग की तरह नज़र आने वाले पिंपल 4 प्रकार के होते हैं। जानिए पिंपल्स के प्रकार...।
    • पेपुल्स
    • पुटी
    • नोड्यूल्स
    • फुंसी या दाना

    जानिए क्या है फेस ब्लीच करने का सही तरीका और उसके फायदे

    पेपुल्स

    पेपुल्स त्वचा पर छोटे लेकिन उभरे हुए नज़र आते हैं। ये गुलाबी रंग के होते हैं। ये त्वचा पर एक्स्ट्रा ऑयल की वजह से पनपता है। आमतौर पर ये बहुत ही सेंसटिव और दर्द देने वाले होते हैं।

    पुटी

    पुटी को सिस्ट या गांठ भी कह सकते हैं। साथ ही ये पस से भी भरे होते हैं। इस तरह के मुंहासे अक्सर त्वचा पर दाग छोड़ जाते हैं। अगर आपको भी इस तरह के मुंहासों के लक्षण नज़र आएं तो डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें। 

    नोड्यूल्स

    नोड्यूल्स मुंहासे त्वचा के ऊपर निकलने के बजाए अंदर की तरफ निकलते हैं। नाॅर्मल पिंपल्स से उलट, ये मुंहासे त्वचा पर हफ्ते या महीनों तक रह सकते हैं।

    फुंसी या दाना

    आमतौर पर ये मवाद से भरे दाने होते हैं, जो त्वचा पर गंदगी व एक्स्ट्रा ऑयल के जमा होने की वजह से होते हैं। 

    मुंहासे के लक्षण - Symptoms of Pimples in Hindi

    वैसे तो मुँहासे के लक्षण कोई खास नहीं होते फिर भी जिस जगह मुंहासा निकालने वाला होता है, वहां पहले से दर्द महसूस होने लगता है। इसके अलावा कई बार वो जगह हल्की गुलाबी भी होने लगती है। पेट खराब रहने की शिकायत व तनाव के चलते भी पिंपल्स होने की आशंका रहती है।  

    पिंपल्स के कारण - Causes of Pimples in Hindi

    मुंहासे किसी को भी पसंद नहीं होते। यह चेहरे पर भद्दे दिखने के साथ ही कई बार अपने साथ दर्द लेकर भी आते हैं। गलती से किसी का हाथ लगा नहीं कि दर्द शुरू। मगर क्या आपने सोचा है कि पिंपल यानि मुंहासे होने के कारण क्या हैं? हमारी कौन सी गलती हमारे चेहरे पर मुंहासों को अंजाम देती है। चलिए जानते हैं पिंपल्स के कारण।
    • धूल- मिट्टी और पॉल्यूशन
    • दवाइयों का सेवन
    • धूम्रपान और कॉफी का सेवन
    • जेनेटिक
    • गंभीर बीमारियां
    • बार- बार चेहरा धोना
    • कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल
    • गलत खानपान

    धूल- मिट्टी और पॉल्यूशन

    अगर आपके चेहरे की त्वचा ऑयली है तो पिंपल्स होने की एक और वजह प्रदूषण व धूल- मिट्टी भी हो सकती है। क्योंकि ऑयली स्किन वाले चेहरे पर गंदगी जल्दी जम जाती है और इससे कील- मुंहासे हो जाते हैं। इसलिए जरूरी है कि कहीं भी जाते समय अपने चेहरे को अच्छी तरह से ढककर चलें और नियमित रूप से चेहरे को साफ भी करते रहें।

    दवाइयों का सेवन

    आजकल की लाइफस्टाइल में लोगों को कम उम्र में ही बीमारियां घेर लेती हैं। ऐसे में एक साथ कई दवाओं का सेवन करना पड़ता है। हर दवा अपने साथ कोई न कोई साइड इफेक्ट लेकर आती है, उन्हीं में से एक है मुंहासों की समस्या। कई केसेज़ में तो डॉक्टर भी यही जवाब देते हैं कि अगर बीमारी को ठीक करना है तो मुंहासे झेलने ही पड़ेंगे। 

    धूम्रपान और कॉफी का सेवन

    कॉफी पीना से कई फायदे होते है लेकिन ज्यादा कॉफी पीने से चेहरे पर मुंहासे हो जाते हैं। कोशिश करें कि कॉफी का सेवन कम ही करें। वहीं ज्यादा धूम्रपान करने और शराब पीने से भी पिंपल हो जाते हैं। इसलिए जरूरी है कि इनका सेवन ना किया जाए। 

    जेनेटिक

    पिंपल्स यानि मुंहासों की समस्या जेनेटिक भी होती है। उदाहरण के तौर पर अगर आपकी मां या पिता में से किसी एक को भी मुंहासों की समस्या है तो आपको भी इस समस्या का सामना करना पड़ सकता है। 

    गंभीर बीमारियां

    लड़कियों में पीसीओडी और पीसीओएस को गंभीर बीमारी माना जाता है। इस वजह से उन्हें कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है, जैसे- चेहरे पर बाल आना, पीरियड समय पर न होना, मां बनने में परेशानी और चेहरे पर मुंहासे हो जाना। इनका इलाज भी काफी लंबा चलता है और चेहरे पर मुंहासों की समस्या भी बढ़ती जाती है।

    बार- बार चेहरा धोना

    आपको चेहरे की सफाई के लिए दिन में चार से पांच बार चेहरा धोने की सलाह तो मिलती ही होगी। लेकिन बार-बार चेहरा धोने से भी पिंपल्स की शिकायत हो जाती है। इसके पीछे वजह यह है कि फेसवॉश या फिर साबुन से जब बार-बार चेहरा धोया जाता है तो उसमें मौजूद केमिकल्स की वजह से चेहरे पर पिंपल्स हो जाते हैं। 

    कॉस्मेटिक्स का इस्तेमाल

    खूबसूरत दिखने के लिए मेकअप करना लड़कियों के लिए आम बात है। मगर पूरे दिन मेकअप में रहने और रात को बिना मेकअप धोए सो जाने की वजह से भी चेहरे पर मुंहासे हो जाते हैं। मेकअप प्रोडक्ट्स में मिले हुए केमिकल्स भी पिंपल्स की वजह बनते हैं। 

    गलत खानपान

    आपका खाना और आपका लाइफस्टाइल काफी हद तक आपकी स्किन के अच्छे व बुरे होने पर असर डालते हैं। आप क्या और किस तरह का खाना खा रहे हैं, इसका आपकी स्किन पर बहुत असर होता है और इस कारण से भी आपके फेस पर मुंहासे और दाग हो जाते हैं। इसलिए मुंहासों को रोकने के लिए आपको अपने खानपान पर ध्यान देना भी जरूरी है। 
    1- खाने में केचअप, ज्यादा शुगर वाले फ्रूट जूस, स्पोर्ट ड्रिंक्स, चॉकलेट मिल्क, फ्लेवर्ड कुकीज जैसी कुछ चीजें हैं, जिनके ज्यादा सेवन से शरीर में शुगर की मात्रा अधिक हो जाती है। इसलिए इन सब का सेवन सीमित रूप में करना चाहिए।  
    2- अगर आप अपनी स्किन को ग्लोइंग और हेल्दी बनाना चाहते हैं तो फैटी फूड से दूर रहें। इसमें अनप्रोसेस्ड मीट, फ्राइड फूड, जंक फूड, हाई फैट डेरी प्रोडक्ट्स और तला हुआ भोजन शामिल हैं।
    3- गेहूं, चावल, जौ और सूजी में ग्लूटेन पाया जाता है और जब भी हम अपने खानपान में इनका अधिक सेवन करने लगते हैं तब फेस पर दाग और मुंहासों की समस्या होने लगती है।

    मुहासे की दवा आयुर्वेदिक - Pimple Hatane ka Tarika

    मुंहासों से परेशान हर इंसान इन्हें हटाने की कोशिश करता है। मगर पिंपल्स हटाने का तरीका बेहद आसान है (pimple hatane ka tarika)। अगर इनसे छुटकारा पाने के लिए आपकी सभी कोशिशें बेकार हो चुकी हैं तो हम आपके लिए लाए हैं कुछ ऐसे आयुर्वेदिक उपाय, जिनकी मदद से आप हमेशा के लिए मुंहासों से मुक्ति पा सकते हैं।   
    भारतीय संस्कृति में आयुर्वेद का बहुत महत्व है और अब तो आयुर्वेद ने देश के साथ विदेशों में भी खूब ख्याति प्राप्त कर ली है। आयुर्वेद में ऐसे कई उपाय मौजूद हैं, जो हमारी त्वचा संबंधी हर समस्या का समाधान कर सकते हैं।  
    1- एक बड़ा चम्मच ऑरेंज पील पाउडर में दो बड़े चम्मच दही मिला लें। अब इसे ब्रश की मदद से पूरे चेहरे व गर्दन की त्वचा पर लगा लें। 20 मिनट बाद चेहरे को पानी से धो लें। संतरे के छिलके में विटामिन सी के गुण मौजूद होते हैं जो त्वचा को साफ व चमकदार बनाते हैं। साथ ही त्वचा में अतिरिक्त ऑयल खत्म कर मुंहासों से भी बचाता है। इसका पाउडर बनाने के लिए लिए आप संतरे के छिलकों को धूप में सुखाकर मिक्सी में पीस लीजिये।
    2- ऑयली त्वचा के लिए नीम की पत्ती काफी कारगर होती है। इससे त्वचा में प्राकृतिक निखार आता है। नीम की पत्ती के पाउडर और पिसी हुई गुलाब की पंखुड़ी को नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाने से त्वचा में चमक आती है और मुंहासों से छुटकारा मिलता है।
    3- आंवले का इस्तेमाल भी चेहरे की रंगत को बढ़ाता है और मुंहासों को आने से रोकता है। आंवले का सेवन न केवल आपकी त्वचा बल्कि आपके शरीर को भी स्वस्थ बनाता है। यदि आपकी त्वचा पर झुर्रियां या दांग-मुंहासे हैं तो दो महीने तक रोज़ आंवले की चटनी या मुरब्बे का सेवन करें। इसके सेवन से आपका खून साफ होगा और आपकी त्वचा स्वस्थ हो जाएगी, जिससे आप पहले से भी ज्यादा सुंदर लगने लगेंगी।
    4- दो चम्मच मुल्तानी मिट्टी में एक चम्मच गुलाबजल और कुछ बूंदें नींबू के रस की मिला लें। फिर इस पेस्ट को चेहरे पर पिंपल वाली जगह पर लगाएं। 10 से 15 मिनट बाद चेहरे को साफ़ पानी से धो लें। मुल्तानी मिट्टी आपके चेहरे में जमी गंदगी को बाहर निकालने के साथ उसमें जमा अतिरिक्त तेल भी खींच लेती है। मुल्तानी मिट्टी खासतौर पर ऑयली स्किन के लिए ज्यादा फायदेमंद होती है। 
    5- लहसुन पिंपल हटाने के तरीकों में बहुत इफेक्टिव माना जाता है क्योंकि ये एंटीफंगल होता है। इसकी दो कलियों को एक लौंग के साथ पीसकर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को सिर्फ पिंपल्स पर लगाएं। सूख जाने पर चेहरा धो लें। कुछ ही दिनों में पिंपल्स की प्रॉब्लम से छुटकारा मिल जाएगा।
    6- विटामिन-सी की खूबी के कारण नींबू हमारी हेल्थ के लिए बहुत तरह से उपयोगी है। चेहरे के दाग- धब्बे हटाने का एक उपाय है कि आप नींबू का रस निकाल लें और कॉटन की मदद से चेहरे पर लगाएं। इसे 10-15 मिनट लगा रहने दें और फिर ताज़े पानी से चेहरा धो लें। दिन में कम से कम 3 बार दिन ऐसा करें। केवल 4 दिन में आप फर्क महसूस करने लगेंगी।
    7- पुदीनाे का नेचर ठंडा होता है, जो कि स्किन को नरिश करता है। इसकी पत्तियां पीसकर पेस्ट बना लें और रात को चेहरे पर लगाएं। जब ये सूख जाए तो बिना धोए सो जाएं। सुबह उठकर ताज़े पानी से चेहरा धो लें। सप्ताह में एक बार ऐसा करें। कुछ टाइम बाद पिंपल्स खत्म हो जाएंगे।
    8- पपीते में भरपूर एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और यह वजह है कि इसे पिंपल्स हटाने के तरीकों में उपयोग किया जाता हैं। यह पिंपल्स को बहुत जल्दी खत्म करने की क्षमता रखता है। इसे छीलकर मिक्सर में पीस लें और चेहरे पर लगाएं। चाहें तो इसका जूस भी चेहरे पर लगाया जा सकता है। पंद्रह से बीस मिनट लगाने के बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
    9- चेहरे पर दानों के उपाय के लिए दालचीनी को पीसकर पाउडर बना लें। एक चम्मच पाउडर में गुलाबजल मिलाकर पेस्ट बनाएं और चेहरे पर लगाएं। पिंपल्स या दानों से जल्दी छुटकारा चाहती हैं तो ऐसा दिन में 2 बार करें।
    10- हल्दी स्किन की कई प्रॉब्लम्स का निदान करती है। एक चम्मच हल्दी पाउडर को दूध और गुलाबजल में मिलाकर पेस्ट बना लें और सीधे पिंपल पर लगाएं। इस उपाय को कुछ दिनों तक करने से पिंपल खत्म हो जाते हैं।
    11- पिंपल्स हटाने का एक अचूक उपाय है गरम पानी की भाप। भाप लेने से त्वचा के रोम छिद्र खुल जाते हैं व चेहरे की गंदगी और जमा ऑयल हट जाता है। जब भी पिंपल्स की दिक्कत हो, चार-पांच दिन तक रोज़ दो बार चेहरे पर भाप लें। पिंपल्स खत्म हो जाएंगे और चेहरे पर ग्लो साफ नज़र आएगा।
    12- चेहरे के दाग- धब्बे हटाने के लिए एक उपाय यह भी है कि शहद को पिंपल पर लगाकर 15 मिनट तक रहने दें। फिर ठंडे दूध से चेहरे की मसाज करते हुए इसे हटा दें। इसके बाद ताज़े पानी से चेहरा धो लें। केवल 10 दिन तक 15 मिनट तक इस काम को करने पर आपके चेहरे की खूबसूरती आप खुद फील कर पाएंगी।
    13- अगर आपकी स्किन बहुत सेंसिटिव न होकर नॉर्मल है तो एक चम्मच बेकिंग सोडा और गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बना लें और पिंपल पर लगाएं, फिर 15 मिनट बाद इसे ताज़े पानी से धो लें। इस उपाय से चेहरे के पिंपल्स और दाग- धब्बे कम हो जाते हैं। सेंसिटिव स्किन पर ये उपाय न ही आज़माएं तो अच्छा है। 
    14- हल्दी एंटीसेप्टिक का काम करती है। इसमें बैक्टीरिया से लड़ने की खूबी होती है और इसलिए इस उपाय का प्रयोग पिंपल हटाने के लिए किया जाता हैं। एक चम्मच हल्दी पाउडर में थोड़ा सा पानी मिलाकर गाढ़ा पेस्ट बना लें और 15 मिनट तक इस पेस्ट को पिंपल्स पर लगाएं। फिर ठंडे पानी से चेहरा धो लें। केवल एक हफ्ते तक यह उपाय  करने पर पिंपल लगभग खत्म हो जाएंगे और चेहरे के दाग धब्बे हट जाएंगे।

    मुँहासे के लिए सबसे अच्छी क्रीम

    वैसे तो आयुर्वेदिक उपाय से बेहतर कुछ नहीं होता। फिर भी पिंपल हटाने के और भी कई तरीके होते हैं (pimple hatane ka tarika) इनमें कील मुंहासे हटाने की क्रीम भी शामिल हैं। अब सवाल ये उठता है कि मुँहासे के लिए सबसे अच्छी क्रीम कौन सी है, ये कैसे पता चलेगा? हम यहां आपको कुछ पिम्पल्स क्रीम के बारे में बता रहे हैं। आप चाहें तो इन्हें बाज़ार से या ऑनलाइन भी खरीद सकते हैं।  

    लोटस हर्बल लेमन प्योर टर्मरिक एंड लेमन क्लींजिंग मिल्क - Lotus Herbals Lemon pure Turmeric and Lemon Cleansing Milk

    लोटस के सभी प्रोडक्ट्स अपने हर्बल गुणों के लिए जाने जाते हैं। इसके अलावा चेहरे पर होने वाले दाग- मुंहासों के लिए हल्दी और नींबू रामबाण की तरह इलाज करते हैं। लोटस के इस प्रोडक्ट में भी हल्दी और नींबू के सभी गुण मौजूद हैं। चेहरे पर से मेकअप उतरने के लिए आप इस क्लींजिंग मिल्क का इस्तेमाल कर सकते हैं। ये प्राकृतिक रूप से आपके चेहरे पर से मेकअप की सारी परतें उतारकर उसके निखार को बढ़ाने का काम करता है।

    विको टर्मरिक स्किन केयर – Vicco Turmeric Skin Cream

    विको सालों से इस्तेमाल होने वाला सबसे पुराना और विश्वसनीय ब्रांड है। विको टर्मरिक स्किन केयर क्रीम औषधीय गुणों से भरपूर है। इसमें हल्दी है, जो एंटीसेप्टिक और एंटीबैक्टीरियल गुणों से भरपूर होती है। यह क्रीम न सिर्फ मुंहासे बल्कि घाव, चकत्ते, दाने और किसी भी अन्य त्वचा की समस्याओं को ठीक करने में मदद करती है।

    हिमालया एक्ने-एन-पिंपल क्रीम – Himalaya Acne-n-Pimple Cream

    हिमालया अपने हर्बल प्रोडक्ट्स के लिए जाना जाता है। हिमालय एक्ने-एन-पिंपल क्रीम त्वचा को मुलायम और चिकना रखते हुए, मुंहासे व फुंस्सी को कम करने का काम करती है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण है। साथ ही यह मुंहासों से होने वाली सूजन को भी कम करती है।

    बायोटिक बायो क्लोरोफिल ऑयल-फ्री एंटी-एक्ने जेल – Biotique Bio Chlorophyll Oil-Free Anti-Acne Gel

    बायोटिक अपने सभी प्रोडक्ट्स में न के बराबर केमिकल होने का दावा करता है। बायोटिक की बायो क्लोरोफिल ऑयल-फ्री एंटी-एक्ने जेल में क्लोरोफिल, सी एलगी, एलोवेरा, सीवीड एक्सट्रैक्ट व गम अरबिक मौजूद हैं। ये तत्व त्वचा के छिद्रों में कसाव लाते है और मुंहासे व फुंसियों को कम करते हैं। साथ ही त्वचा को साफ भी करते हैं।  

    सवाल-जवाब FAQ’s

    मुंहासों को लेकर मन में अक्सर कई सवाल उठते हैं। जानिए इन्हें लेकर ज्यादातर पूछे जाने वाले सवाल और उनके जवाब।  
    सवाल- मुंहासों को आने से कैसे रोका जा सकता है?
    जवाब- इसका कोई तय फार्मूला नहीं है। युवावस्था में हार्मोनल बदलाव के कारण चहरे पर मुंहासे निकलने लगते है। ऐसे में जिनकी त्वचा अधिक तैलीय होती है, उन्हें बार-बार इनका सामना करना पड़ता है। इन्हें कम करने के लिए अधिक मात्रा में पानी पीते रहें और बाहर से आने के बाद चहरे को साफ ज़रूर करें। 
    सवाल- क्या मुंहासे सिर्फ ऑयली स्किन पर ही आते है?
    जवाब- मुंहासे ज्यादातर ऑयली स्किन पर ही अपना घर बनाते हैं। 
    सावल- मुंहासे दूर करने के लिए बेस्ट ट्रीटमेंट कौन सा है?
    जवाब- अगर आप मुंहासें दूर करने के लिए बेस्ट ट्रीटमेंट तलाश रहे हैं तो किसी अच्छे त्वचा रोग विशेषज्ञ से मिलें। डाॅक्टर की सलाह लिए बगैर किसी भी तरह का ट्रीटमेंट न आज़माएं।
    सावल- रातों-रात मुंहासों से छुटकारा कैसे पाएं?
    जवाब- रातों-रात मुंहासों से छुटकारा पाना आसान नहीं है। फिर भी मुंहासे पर बर्फ रगड़कर उन्हें थोड़ा कम ज़रूर किया जा सकता है। 
    सवाल- चहरे पर पिंपल कितने लंबे समय तक बना रहता है?
    जवाब- छोटे और मामूली मुंहासे तो कुछ दिनों में चले जाते हैं लेकिन बड़े, मवाद वाले और घाव वाले मुंहासों को जाने में 5 से 6 हफ्ते तक का समय लग जाता है।

    आपके लिए खुशखबरी! POPxo शॉप आपके लिए लेकर आए हैं आकर्षक लैपटॉप कवर, कॉफी मग, बैग्स और होम डेकोर प्रोडक्ट्स और वो भी आपके बजट में! तो फिर देर किस बात की, शुरू कीजिए शॉपिंग हमारे साथ।
    ... अब आएगा अपना वाला खास फील क्योंकि POPxo आ गया है 4 भाषाओं में ... तो फिर देर किस बात की! चुनें अपनी भाषा - अंग्रेजीहिन्दीबांग्ला और मराठी... क्योंकि अपनी भाषा की बात अलग ही होती है।